पंचायत चुनाव में खुरापात की तो खैर नहीं ,गैंगेस्टर व गुंडा एक्ट में होगी कार्यवाही

द न्यूज यूनिवर्स

झाँसी

22 फ़रवरी

पंचायत चुनाव में खुरापात की तो पुलिस कर देगी गैंगेस्टर और गुंडा एक्ट में चालान
झाँसी। आगामी पंचायत चुनाव की सुगबुगाहट होते ही पुलिस हरकत में आ गई है। चुनावी तैयारी में जुटी पुलिस ने पूर्व में चुनावी रंजिश में हुई वारदातों का ब्यौरा खंगालना शुरु कर दिया है। साथ ही चुनाव को प्रभावित करने वालों को गुंडा एक्ट और गैंगेस्टर में निरुद्ध किया जा रहा है। इसके अलावा चुनाव में कोई गड़बड़ी न हो, इसके लिए लोगों को भारी भरकम मुचलका राशि से भी पाबंद किया जा रहा है।
त्रिस्तीय पंचायत चुनाव की घोषणा कभी भी हो सकती है। चुनाव को शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिए पुलिस ने भी होमवर्क करना शुरु कर दिया है। इसी क्रम में पुलिस ने चुनाव में पूर्व में हुई वारदातों को खंगालना शुरु कर दिया है ताकि समय रहते ऐसी घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके। इसके चलते पुलिस ने गांव गांव में बैठक करनी शुरु कर दी है। मौजूद और पूर्व प्रधान पक्ष के लोगों को मुचलका पाबंद भी करना शुरु कर दिया है। मुचलका पाबन्द की राशि पांच लाख तक रखी गई है ताकि कोई चुनाव में गड़बड़ी न कर सके।

अवैध शराब और असलहा पर नजर
पंचायत चुनाव में वोटरों को लुभाने के लिए प्रत्याशी शराब बंटवाते हैं, अवैध शराब के वितरण पर नजर रखने के लिए टीम का गठन किया गया है। असलहा और अवैध शराब पर निगरानी के लिए खुफिया विभाग के टीम के साथ साथ मुखबिर तंत्र को भी सक्रिय कर दिया गया है। अवैध शराब की भट्टियों पर पुलिस और आबकारी विभाग की टीम ने छापेमारी शुरु कर दी है।

असलहा का सत्यापन शुरु
आलाधिकारियों थानेदारों को उनके क्षेत्र के शस्त्र लाइसेसं का सत्यापन करने के निर्देश दिए हैँ। जनपद में 23 हजार शस्त्र लाइसेंस है जिनका सत्यापन किया जाना है। पुलिस टीम गांव गांव जाकर सत्यापन करने में जुटी है। चुनाव से पहले ही लाइसेंस धारकों को अपने शस्त्र थानों या दुकानों पर जमा कराने होंगे।

गैंगस्टर और गुंडा एक्ट बना हथियार
शातिर अपराधी, गोकशों के साथ साथ पुलिस चुनाव में गड़बड़ी करने वालों को गैंगेस्टर और गुंडा एक्ट में निरुद्ध कर छह माह के लिए जिलाबदर कर रही है। पुलिस के निशाने पर ऐसे लोग है जो पूर्व में चुनाव में गड़बड़ी कर चुके हैं। एसएसपी दिनेश कुमार पी व एसपी सिटी विवेक त्रिपाठी के निर्देश पर शहर सर्किल की पुलिस ने गुंडा एक्टर और गैंगेस्टर एक्ट की कार्रवाई की है। बताते हैं कि सिटी सर्किल के तेरह थानों में 1 अक्तूबर से 31 दिसंबर 2020 तक अभियान चलाया था। इस अभियान के तहत 22 अभियुक्त गुंडा एक्टर और गैंगेस्टर एक्ट के मुकदमा पंजीकृत किए गए हैं। इनमें 88 अभियुक्तों में से 65 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। साथ ही तीन लोगों को अदालत में आत्मसमर्पण किया। इसके अलावा 88 अभियुक्तों में दो महिला व 86 पुरुष शामिल है। 20 अभियुक्तों की गिरफ्तारी शेष रह गई थी। वहीं, एक जनवरी से 3 फरवरी तक चलाए गए अभियान में पुलिस को अच्छी सफलता हासिल हुई है। इनमें 21 अभियुक्तों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किए गए गए हैं। इनमें 71 अभियुक्तों में से 16 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। 71 अभियुक्तों में से पांच महिला व 66 पुरुष शामिल है। 16 अभियुक्तों पर कार्रवाई की है जबकि 55 अभियुक्त गिरफ्तारी को शेष रह गए हैं। बताते हैं कि जिन लोगों के खिलाफ गुंडा एक्टर व गैंगेस्टर एक्ट की कार्रवाई की है, उनमें वाहन चोर, नकबजनी आदि घटनाओं के मुजलिम शामिल है।

इन्होंने कहा
शासन की मंशा के अनुरुप चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराया जाएगा। इसके लिए तैयारी शुरु कर दी गई है। चुनाव में गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी।
दिनेश कुमार पी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक