चोरों द्वारा हत्या की स्टोरी फर्जी, पति निकला हत्यारा !!मऊरानीपुर पुलिस ने किया हत्याकांड का पर्दाफाश

द न्यूज यूनिवर्स

झाँसी

21 सितंबर

चोरों पर हत्या की स्टोरी फर्जी, पति निकला हत्यारा!
पति सहित ससुरालियों पर दहेज हत्या का मुकदमा
झाँसी। जनपद में मऊरानीपुर थाना क्षेत्र के ग्राम भंडरा में चोरी के उद्देश्य से घर में घुसे बदमाशों ने परिजनों के जागने पर पति के मुंह में कपड़ा ठूंस कर पत्नी की गला दबाकर हत्या की कहानी पुलिस के गले नहीं उतरी, जब गहराई से जांच व पूूछताछ की गई तो दहेजलोभ में डूबे पतिं व ससुरालियों की ऐसी कारगुजारी सामने आई की लोगों ने दांतों तले उंगली दबा ली। जांच पड़ताल में दहेज पीडि़त महिला का हत्यारा उसका पति निकला।


दरअसल, झांसी जिले के मऊरानीपुर थाना क्षेत्र के ग्राम भंडरा में रात में मुस्लिम परिवार में युवती की हत्या की ऐसी कहानी बताई किसी के गले नहीं उतरी। बताया गया कि सोमवार को रात्रि लगभग 1:00 बजे बदमाश चोरी के उद्देश्य छत के रास्ते से अफरोज मंसूरी के मकान में घुसे जब वह अलमारी खोल रहे थे उसी बीच अफरोज के जाग जाने पर उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया एवं उसकी पत्नी अफसाना का गला दबा दिया। जिससे वह अचेत हो गई।


बदमाशो के भागने के बाद अफसाना को सीएचसी मऊरानीपुर ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी, एसपी देहात राहुल मिठास, क्षेत्राधिकारी अभिषेक राहुल सहित आसपास के थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। परिवार के शहजाद मंसूरी ने बताया बदमाश मात्र मृतक के गले का मंगलसूत्र ले गए। मौके का पर डॉग स्काट बुलाया गया लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। जांच पड़ताल में पता चला कि मृतका की शादी मात्र 14 माह पूर्व हुई थी।


इधर, मृतका के मायके के लोग छतरपुर के पठा से मऊरानीपुर के ग्राम भंडरा पहुंचे तो कहानी से दहेज का खूनी एंगल निकला। हालांकि पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने घटनास्थल का मुआयना करने के बाद घटना को संदिग्ध बताया था। पूछताछ में पता चला कि दहेज प्रताडि़त कर अफसाना का गला दबाकर उसके पति ने मार डाला और इसे छिपाने के लिए फर्जी दोष चोरों पर थोपने की कोशिश की। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण राहुल मिठास ने हत्या से पर्दाफाश कर जानकारी दी।
उक्त घटना के संबंध में थाना मऊरानीपुर पर मृतका के पिता वादी मुस्तफा द्वारा दी गई तहरीर पर मुकदमा अपराध संख्या 528/20 धारा 498ए, 304बी, 323,504, 506 भादवि एवं 3 / 4 दहेज प्रतिषेध अधिनियम के तहत आरोपी पति अफरोज, नबी मोहम्मद, सलमा, रुखसार, फिरोज आदि के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कर विवेचनात्मक कार्यवाही प्रचलित की गई है।