बाहर से आए श्रमिकों के बनेंगे राशन कार्ड व जॉब कार्ड: डीएम

द न्यूज यूनिवर्स

झाँसी

28 मई


बाहर से आए श्रमिकों के बनेंगे राशन कार्ड व जॉब कार्ड: डीएम
झाँसी। जनपद में 24 मार्च से 25 मई 2020 तक लगभग 34500 प्रवासी श्रमिक/ कामगार आ चुके है। यह सिलसिला अनवरत चल रहा है। ग्रामवार चिन्हित करते हुए सभी का राशन कार्ड व मनरेगा अंतर्गत जॉब कार्ड अभियान चलाकर बनाया जाए। यदि राशन कार्ड व मनरेगा जॉब कार्ड बनाने में किसी प्रकार की गड़बड़ी की शिकायत प्राप्त होगी तो संबंधित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। ग्राम स्तर पर गठित निगरानी समिति राशन कार्ड व जॉब कार्ड बनाने में सहयोग करें। एक गांव एक तालाब के अंतर्गत कार्य में तेजी लाएं और पर्याप्त श्रमिकों को लगाकर जल्द तालाब का कार्य पूर्ण करें।
 यह निर्देश जिलाधिकारी आन्द्रा वामसी ने विकास भवन सभागार में जनपद में आए प्रवासी श्रमिक /कामगारों को शासन द्वारा संचालित योजना से आच्छादित करने हेतु बैठक की अध्यक्षता करते हुए दिए। उन्होंने कहा कि कार्य चुनौतीपूर्ण है, अतः कार्य पूर्ण पारदर्शिता व संवेदनशील होकर किया जाना सुनिश्चित हो।

16424 परिवारों के घरों पर क्वॉरेंटाइन स्टीकर लगाए गए
जनपद में आए प्रवासी श्रमिकों को राशन कार्ड व मनरेगा जॉब कार्ड बनाए जाने के निर्देश देते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि लगभग 34500 श्रमिक /कामगार जनपद के सभी विकासखंड, निकाय व नगर निगम में आए हैं। यह समस्त श्रमिक /कामगार जनपद के 18450 परिवार के सदस्य हैं जो बाहर से आए हैं। उन्होंने कहा कि अधिक देहात क्षेत्र लगभग 30882 आए हैं। जबकि नगर निगम में 1127, निकायों में 2135 तथा छावनी परिषद में 150 व अन्य विभाग/ संस्थाओं में 123 प्रवासी आए हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि 16424 परिवारों के घरों में क्वॉरेंटाइन स्टीकर लगा दिए गए, शेष में जल्द स्टीकर लगाने का कार्य पूर्ण किया जाए।

बाहर से आए प्रत्येक श्रमिक का डाटा होगा तैयार
जिलाधिकारी ने निर्देश देते हुए कहा कि प्रत्येक गांव में जो बाहर से आए श्रमिक हैं उनका डाटा एकत्र करते हुए अभियान चलाकर राशन कार्ड व जॉब कार्ड बनाए जाएं। उन्होंने ताकीद करते हुए कहा कि यदि लापरवाही अथवा सुविधा शुल्क लेने की शिकायत प्राप्त होगी तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऐसे प्रवासी श्रमिक जो काम छोड़कर आए हैं उन्हें अवश्य प्राथमिकता से जॉब कार्ड व मनरेगा में काम उपलब्ध कराया जाए।

निगरानी समितियां करें सहयोग
बैठक में जिलाधिकारी ने समस्त उपजिलाधिकारी व खंड विकास अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनपद में 758 निगरानी समितियां है। सभी अपने अपने क्षेत्र की निगरानी समितियों से कहे कि राशन कार्ड व जॉब कार्ड बनवाने में सहयोग करें ताकि कोई भी प्रवासी छूटने ना पाए। उन्होंने लगातार मुख्यमंत्री हेल्पलाइन से जनपद में गठित निगरानी समितियों से फीडबैक लिया जा रहा है। अतः सभी समितियां सक्रिय होकर कार्य करें। इस मौके पर सीडीओ निखिल टीकाराम फुंडे, एडीएम राम अक्षयवर चौहान, एसडीएम संजीव कुमार मौर्य सहित समस्त एसडीएम, समस्त बीडीओ, जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।
—————