पांचवे कोरोना संक्रमित की मौत, तीन नए पॉजिटिव मिलने से हड़कंप ; 290 सब हेल्थ सेंटर का संचालन शुरु किया जाए

द न्यूज यूनिवर्स

झाँसी

28 मई


पांचवे कोरोना संक्रमित की मौत, तीन नए पॉजिटिव मिलने से हड़कंप
– अब तक की कुल संख्या पहुंची 35, 4 मरीज पॉजिटिव बने हुए हैं
झाँसी। 10 दिन तक कोरोना से मुक्त रहे झाँसी में एक बार फिर कोरोना संक्रमितों की संख्या में बढ़ोत्तरी शुरु हो गई है। जिस तरह से कोरोना पीड़ित मरीज लगातार ठीक हो रहे थे, ऐसा माना जा रहा था कि अब वीरांगना भूमि सुरक्षित हो गई है। लेकिन एकाएक औद्योगिक नगरी से गांव में होते हुए कोरोना फिर से वापस आ गया। देर रात कोविड-19  के कुल 71 नमूनों की रिपोर्ट आ गई। इनमें से 3 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। 3 में से एक की मौत हो गई है। इस प्रकार जिले में अब तक कोरोना से 5 वी मौत हुई है। मृतक के गुर्दे काम करना बंद कर गए थे। उसे डॉयलिसिस के लिए लाया गया था। अब जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 4 है। जबकि 26 संक्रमित उपचार के दौरान स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं।
जिलाधिकारी आन्द्रा वामसी ने 27 मई को लिए गए कुल 71 नमूनों की रिपोर्ट के रिजल्ट की जानकारी देते हुए बताया कि जिले में 5 वें कोरोना पॉजिटिव की मौत हुई है। मृतक 50 वर्षीय निवासी चिरगांव बताया जा रहा है । उसे किडनी फेल्योर की स्थिति में आपातकालीन वार्ड में बुधवार की सुबह भर्ती कराया गया था। उसका डॉयलिसिस कराया जाना था। उपचार के दौरान दोपहर करीब साढ़े बारह बजे उसकी मौत हो गई थी। इस दौरान उसका कोविड-19 का सैंपल लिया गया था। जो देर रात पॉजिटिव आया। वहीं एक अन्य महिला मरीज बताई जा रही है। जो उन्नाव गेट बाहर निवासी है। और गर्भवती भी है। जबकि तीसरा मरीज बंगरा से बताया जा रहा है। जो गुरुग्राम से वापस लौटा बताया गया है। हालांकि सभी पॉजिटिव मरीजों को आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट करते हुए उनका उपचार किया जा रहा है।

अब तक मिल चुके हैं 35 मरीज
जिले में अब तक 35 मरीजों को पॉजिटिव पाया गया है जिसमें से 26 मरीज इलाज के बाद अपने घर जा चुके हैं जबकि 5 मरीजों की मौत हो चुकी है, 4 कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है।

हॉटस्पॉट में बढ़ोतरी
कोरोना संक्रमण के मरीज चिरगांव, बंगरा गाँव, मऊरानीपुर भैरव खिड़की उन्नाव गेट एरिया से सामने आए हैं। जिसके बाद मानक अनुसार हॉटस्पॉट की जल्द ही घोषणा की जा सकती है। हालांकि जिला प्रशासन ने देर रात से ही क्षेत्रों को सील कर दिया है। जिलाधिकारी ने सभी से अपील की है कि सोशल डिस्टेंस का पालन अवश्य करें। साथ ही बिना मॉस्क लगाए किसी भी हालत में घर से बाहर न निकलें। और यदि किसी को संक्रमण संबंधी जरा भी संदेह हो तो तो उसकी तुरंत जांच कराएं ।


290 सब हेल्थ सेंटर का संचालन शुरु किया जाए
झाँसी। टीबी  मरीजों के सैंपल लेकर कोविड-19 की जांच की जाए, अधिकतम कोविड पॉजिटिव मरीज टीबी से ग्रस्त पाए गए। जिले में पुनः टीबी सर्वे कराए जाने के निर्देश ताकि अधिक से अधिक लोगों को कोविड 19 से बचा सकें। जनपद में 44 हेल्थ वैलनेस सेंटर का कार्य जल्द पूर्ण किया जाए साथ ही 6 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में बायोमेडिकल कलेक्शन शेड का निर्माण भी जल्द पूर्ण करते हुए उनका डॉक्यूमेंटेशन किया जाए।
 यह निर्देश जिलाधिकारी आंद्रा वामसी ने विकास भवन सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में अध्यक्षता करते हुए दिए। उन्होंने आयुष्मान भारत योजना में दावों के सापेक्ष क्लेम कम होने पर असंतोष व्यक्त किया।
 जिला स्वास्थ समिति की बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि आने वाला समय चुनौतीपूर्ण है अतः सभी अपने दायित्वों का संवेदनशील होकर पालन करें। उन्होंने कहा कि जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में 100-100 बैड कोविड-19 के लिए तैयार किए जाने हैं। जो सारी सुविधाओं युक्त होगें, यदि मैन पावर की आवश्यकता है तो उसकी व्यवस्था करलें। जनपद में लगभग 290 सब हेल्थ सेंटर हैं उनका संचालन प्रारंभ कराया जाए यदि मरम्मत कार्य किए जाने हैं तो प्राथमिकता से उक्त कार्य करा लिए जाएं।
 जिलाधिकारी ने रेडक्रास कोविड-19 झांसी फंड की समीक्षा करते हुए कहा कि जनता के सहयोग से है, यह जनता का फंड है। उसे उनके हित में ही  खर्च करना होगा ताकि विश्वास बना रहे। उन्होंने कहा कि कोविड- 19 से निपटने हेतु फंड से पीपीई किट, ग्लव्स, मास्क सहित अन्य कार्य कराए गए हैं सभी का प्रॉपर डॉक्यूमेंटेशन होने के बाद ही भुगतान संभव होगा। इस मौके पर सीडीओ श्री निखिल टीकाराम फुंडे, सीएमओ डॉक्टर गजेंद्र कुमार निगम सहित समस्त एसडीएम,एमओआईसी व अन्य चिकित्सक उपस्थित रहे।
—————