पूर्व विधायक प्रागीलाल की बीजेपी में बापसी से क्षेत्र में राजनीतिक सरगर्मी

द न्यूज यूनिवर्स

झाँसी

24 जनबरी

मऊरानीपुर विधानसभा क्षेत्र से तीन बार विधायक रहे प्रागीलाल अहिरवार की लगभग चार साल बाद बीजेपी में बापसी हो गई । पूर्व विधायक की बीजेपी में बापसी से क्षेत्र में राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है , व राजनैतिक चर्चाओं का बाज़ार गर्म हो गया है ।राजनीति में दखल रखने वाले लोगों का मानना है कि क्षेत्र के कद्दावर व जुझारू नेता मने जाने वाले प्रागीलाल अहिरवार की घर बापसी भाजपा की राजनीति में कई गुल खिलायेगी व क्षेत्र की राजनीति में नए समीकरण बनाएगी ।
मऊरानीपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम रोरा से ग्रामप्रधानी से राजनीति का सफर शुरू करने वाले प्रागीलाल अहिरवार 1989 में पहली बार विधायक निर्वाचित हुए । इसी दौरान रामजन्मभूमि आंदोलन में अपने जुझारू पन से वह भाजपा में काफी लोकप्रिय हो गए ।


मऊरानीपुर विधानसभा क्षेत्र से वह तीन बार विधायक निर्वाचित हुए ।इस दौरान उनकी पत्नी व पुत्र ब्लॉक प्रमुख व जिला पंचायत सदस्य भी निर्वाचित हुए व विधानसभा क्षेत्र में उनका प्रभाव बढ़ता गया । उनकी पत्नी श्रीमती बीरा वाली व उनके पुत्र मनोज कुमार ब्लॉक प्रमुख रहे व उनके पुत्र डॉ विनोद कुमार जालौन जिला में काफी सक्रिय रहे ।


इसके बाद दो बार लगातर चुनाव हारने व पार्टी की अंदरूनी राजनीति व अन्य कारणों से उन्हें भाजपा छोड़ना पड़ी । वर्ष 2017 का विधानसभा चुनाव उन्होंने बसपा से लड़ा व उनके राजनैतिक प्रतिद्वंद्वी बिहारी लाल आर्य ने कांग्रेस छोड़ कर भाजपा का दामन थाम लिया व भाजपा के टिकट से विधानसभा चुनाव जीता । विधानसभा का चुनाव हारने के बावजूद प्रागीलाल जनता के बीच सक्रिय रहे । भाजपा में उनके शुभचिंतक लगातार उन्हें घरवापसी के लिये प्रेरित करते रहे ।
प्रागीलाल अहिरवार ने आज भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतन्त्र देव सिंह के समक्ष भाजपा में बापसी कर ली । तीन बार विधायक रहे प्रागीलाल अहिरवार की बीजेपी में बापसी की अटकलें कई दिनों से लगाई जा रही थी । उनकी बीजेपी में बापसी से भाजपा के कई नेताओं ने प्रसन्नता व्यक्त की है ।