समाचार ,खेती किसानी ,झाँसी और आसपास

द न्यूज़ यूनिवर्स

झाँसी

7जुलाईससुराल में सिर झुकाकर, आंसू बाहकर जिंदगी गुजार रही हैं लड़कियां
दहेज की खातिर दो युवतियां प्रताड़ित
झाँसी। देश भले ही कितना बदल जाये लेकिन दहेज प्रथा कभी नहीं खत्म हो सकती है। इस दहेज की वजह से ना जाने कितनी भोली-भाली लड़कियां जिंदा जलाई जाती हैं तो कितनी लड़कियों का घर तबाह हुआ है। बेटी सुखी रहे उसके लिए गरीब माता-पिता अपना सालों जमा पुंजी को दहेज के रूप में दे देते हैं और उसके बाद भी ससुराल में लड़कियों को सिर झुकाकर, ताने सुनकर और आंसू बाहकर जिंदगी गुजारनी होती है। ऐसे ही मामले रोजाना प्रकाश में आ रहे हैं।
प्रेमनगर थाना क्षेत्र के राजगढ़ निवासी सुनील झाँ की लड़की ने महिला थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है कि इटावा के नौरंगाबाद में रहने वाले राहुल शर्मा से उसकी शादी 2017 में हुई है। शादी में उसके पिता ने हैसियत के अनुसार दहेज दिया है। शादी के कुछ दिन बीत जाने के बाद ससुरालियों ने उससे दहेज की मांग की। मांग पूरी न करने पर उसे परेशान करना शुरु किया। आरोप है कि आए दिन प्रताड़ित कर उसे घर से निकाल दिया। पुलिस ने राहुल शर्मा आदि के खिलाफ दफा 498ए, 323, 3/4 दहेज अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं, मऊरानीपुर थाना क्षेत्र के ग्राम बम्हौरी निवासी प्रकाश ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसकी लड़की की शादी लहचूरा थाना क्षेत्र के ग्राम अक्सेव निवासी चंद्रभान से हुई है। शादी के बाद ससुरालियों ने अतिरिक्त दहेज की मांग की। मांग पूरी न करने पर लड़की को परेशान किया। इसके बाद धमकी देकर घर से निकाल दिया। पुलिस ने चंद्रभान आदि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

—————–
खेती किसानी:-

कम पानी और कम अवधि की फसलों को दें प्राथमिकता
15 जुलाई तक यदि ठीकठाक बारिश नहीं होती है तो करें यह कार्य


झाँसी।  बुंदेलखंड में फिलहाल बारिश प्रारंभ हो गयी है, परंतु मौसम विभाग की भविष्यवाणी को देखते हुए जहां एक ओर किसान परेशान है तो वहीं दूसरी ओर कृषि विभाग सतर्क है। 15 जुलाई तक पर्याप्त वर्षा न होने की स्थिति में कृषि विभाग आकस्मिक योजना पर काम करेगा। वहीं किसानों को भी पानी की उपलब्धता के आधार पर कृषि कार्य करने चाहिए।
मालूम हो कि विगत वर्षों में बुंदेलखंड में मानसून जून के दूसरे-तीसरे सप्ताह तक दस्तक दे देता था परंतु इस वर्ष मानसून विलंब से आया और फिलहाल इतनी बारिश भी नहीं हुयी जिससे खरीफ की फसलों की बुवाई की जा सके। ऐसे में किसान चिंतित है। हां, यह जरूर है कि कुछ क्षेत्रों में पर्याप्त नमी होने की वजह से खरीफ की फसलों की बुवाई हो गयी है परंतु बहुत से क्षेत्र अभी बाकी हैं जहां खरीफ की फसलों की बुवाई का समय निकलता जा रहा है। अब ऐसे में यदि बुंदेलखंड में 15 जुलाई तक ठीकठाक बारिश हो जाती है तो विलंब से बोई जाने वाली प्रजातियों के जरिेए किसी हद तक भरपाई की जा सकती है। इसके बाद बारिश न होने की स्थिति में कम पानी व कम समय में तैयार होने वाली फसलों जैसे उर्द, मूंग व तिल की खेती की जा सकती है।
————
चलती ट्रेन से महिला का पर्स चोरी


झाँसी। अज्ञात बदमाशों ने चलती ट्रेन से एक महिला का पर्स चोरी कर लिया। पर्स में कैश व जेवरात आदि सामान रखा हुआ था। इसकी सूचना रेलवे पुलिस को दी गई।
मथुरा निवासी शशि जैन चंबल एक्सप्रेस के स्लीपर कोच की सीट क्रमांक 50 पर सवार होकर झाँसी आ रही थी। चलती ट्रेन से अज्ञात बदमाशों ने उसका पर्स चोरी कर लिया। पर्स में दस हजार कैश, मोबाइल फोन, चांदी और मोतियों की माल रखी थी। इसकी सूचना रेलवे पुलिस को दी गई। रेलवे पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।
—————–

मुंबई से भागी किशोरी पकड़ी


झाँसी। रेल सुरक्षा बल ने मुंबई से भागी किशोरी को पकड़ लिया। पूछताछ के बाद उसे रेलवे चाइल्ड लाइन के हवाले कर दिया।
रेल सुरक्षा बल के मंडल सुरक्षा नियंत्रण कक्ष ने आरपीएफ को सूचना दी कि प्लेटफार्म नंबर एक पर गाड़ी संख्या 11015 खड़ी है। इस ट्रेन के जनरल कोच इंजन साइड की ओर एक लड़की बैठी हुई है। इस सूचना पर सहायक उपनिरीक्षक हरपाल सिंह यादव, आरक्षक बजरंगी लाल वहां पहुंचे। उन्होंने जनरल कोच को अटेंड किया तो एक लड़की बैठी हुई मिली। पूछताछ की है तो लड़की ने बताया कि वह घर से भागकर लखनऊ जा रही है। महिला आरक्षक रोशनी फाटे द्वारा उक्त लड़की को कोच से नीचे उतार लिया। बाद में उसे थाना लाया गया। सूचना पर रेलवे चाइल्ड लाइन सदस्य श्वेता वर्मा व ललित कुमार भी वहां पहुंचे। लड़की ने अपना नाम खुशबू (काल्पनिक नाम) निवासी भीमनगर असल्फा घाटकोपर वेस्ट थाना घाटकोपर जिला सिद्धार्थ नगर महाराष्ट्र बताया। बाद में उक्त लड़की को रेलवे चाइल्ड लाइन के हवाले कर दिया।