समाचार झाँसी , रेलवे और आसपास , 5 जुलाई

द न्यूज़ यूनिवर्स 

झाँसी

5 जुलाई

ऑन डिमांड वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़, दो गिरफ्तार

झाँसी। स्वॉट टीम और कोतवाली पुलिस ने ऐसे वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है, जो डिमांड के आधार पर बाइकें चोरी कर सप्लाई करता था। गिरोह के दो सदस्यों को पुलिस ने चोरी की बाइकें समेत गिरफ्तार किया। पकड़े गए बदमाशों की निशानदेही पर चोरी की सात बाइकें बरामद की है। गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश की जा रही है। देरशाम तक टीम की दबिश जारी थी। यह जानकारी पुलिस लाइन के सभागार में प्रेसवार्ता में एसएसपी डॉ ओ पी सिंह ने दी।
उन्होंने बताया कि स्वॉट टीम व कोतवाली पुलिस बाइक चोरी करने वाले गिरोह के सदस्यों की तलाश में लगी हुई थी। सूचना मिली कि अंजनी माता मंदिर के पास दो बदमाश खड़े हैं। यह लोग चोरी की बाइक खरीदने वाले युवक का इंतजार कर रहे हैं। इस सूचना पर गई टीम ने घेराबंदी कर दोनों युवकों को एक बाइक समेत पकड़ लिया। कड़ाई से पूछताछ की। एसएसपी के मुताबिक टोड़ीफतेहपुर थाना क्षेत्र के ग्राम रेवन निवासी अरविन्द अहिरवार व मोहम्मद हनीफ उर्फ भूरे को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से चोरी की सात बाइकें बरामद की है। इनमें सीडी डीलक्स, हीरो होंडा पैंशन, टीवीएस मैक्स 100, होण्डा ड्रीम युवा, हीरो होंडा पैंशन, हीरो होंडा हक आदि गाड़ी शामिल है। इन बाइकों को झाड़ियों में छिपाकर रखा गया था।
एसएसपी के मुताबिक पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे व्हीकल ऑन डिमांड के आधार पर बाइक चोरी का धंधा करते हैं। आरोपियों से पूछताछ के बाद टीम ने चोरी की बाइक खरीदने वाले युवकों की तलाश शुरु कर दी है। एसएसपी ने गिरोह का भंडाफोड़ करने वाली पुलिस टीम को देने की घोषणा की है।

चोरी से पहले की जाती थी बाइक की बुकिंग
अपनी तरह के पहले वाहन चोर गिरोह की खासियत यह थी कि यहां वाहन चोरी से पहले उसकी डिमांड के आधार पर बाकायदा बुकिंग की जाती थी। एसएसपी ने बताया कि चोरी की बाइक का आर्डर लेने के बाद गिरोह के सदस्य बुक किए गए मॉडल व बाइक की जानकारी देता था, जिसके बाद बाइक चोरी कर तीन दिन बाद उसकी डिलवरी दे दी जाती थी। बुकिंग के बाद चुराई गई बाइक की कीमत उसके मॉडल नंबर व कंडीशन के आधार पर तय की जाती थी. बुकिंग के अलावा, जो बाइकें चोरी की जाती थी, इंजन व चेसिस नंबर बदलने के बाद उन्हें दतिया या महोबा में बेच दी जाती थी।

पूरे बुंदेलखंड में फैला हुआ है गिरोह का नेटवर्क
एसएसपी ने बताया कि वाहन चोर गिरोह का नेटवर्क पूरे बुंदेलखंड क्षेत्र में फैला हुआ है। गिरोह के बदमाश शातिर अपराधी हैं, जिनके खिलाफ कई थानों में मुकदमे दर्ज हैं और वे काफी समय से वाहन चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। बाइक चोरी करने के लिए आरोपी अधिकांशत: बैंकों को निशाना बनाते थे, जिसके चलते वे कई बार सीसीटीवी कैमरों में भी आ चुके हैं।

चोरी की बाइक खरीदने वाले भी जाएंगी जेल
अपनी तरह के पहले वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ होने के बाद एसएसपी ने सख्त रुख अपनाते हुए चोरी के वाहन खरीदने वाले लोगों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए हैं। एसएसपी के अनुसार जो भी व्यक्ति चोरी की बाइक खरीदेगा या उसके साथ पकड़ा जाएगा, उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उसे भी जेल भेजा जाएगा।

इस टीम को मिली सफलता
कोतवाली प्रभारी संजय कुमार, स्वॉट टीम प्रभारी विजय कुमार पांडेय, एसआई संजीव कुमार, जितेन्द्र सिंह तक्खर, सुरेन्द्र प्रताप सिंह, शिवजीत सिंह, कांस्टेबल राजीव कुमार, विक्रम सिंह, सोमेश, अजय भदौरिया, योगेन्द्र सिंह चौहान, सत्यपाल सिंह, शैलेन्द्र चौहान व पदम गोस्वामी शामिल है।
————
रेलवे :-
नए डीआरएम संदीप माथुर ने संभाला कार्यभार
झाँसी। उत्तर मध्य रेलवे के झाँसी मंडल के नये मंडल रेल प्रबंधक संदीप माथुर द्वारा पद का कार्यभार ग्रहण किया गया।
संदीप माथुर वर्ष-1988 बैच के भारतीय रेल सिग्नल एवं टेलिकॉम सेवा के अधिकारी है। भारतीय रेल में इनकी सेवा का प्रारंभ उत्तर मध्य रेलवे के इलाहाबाद मंडल से हुआ । इन्होंने इलाहाबाद व कानपुर में सहायक सिग्नल एवं टेलिकॉम इंजिनीयर का कार्यभार संभाला। इनके द्वारा बीकानेर मंडल में मंडल सिग्नल एवं टेलिकॉम इंजिनीयर का कार्य भी किया गया तदुपरांत उत्तर रेलवे में वरिष्ठ मंडल सिग्नल एवं टेलिकॉम इंजिनीयर का कार्य संभाला गया। इनके कार्य में पारंगत होने के कारण इनको डैप्युटेशन पर “सिग्नल एक्सपर्ट” की हैसियत से मलेशिया भेजा गया। इसके उपरान्त इनके द्वारा खरगपुर व चक्रधरपुर जैसे मंडलों में भी कंस्ट्रक्शन व ओपन लाइन में काम किया गया, मुख्य सिग्नल एवं टेलिकॉम इंजिनीयर कंस्ट्रक्शन के पद पर कार्य करने के उपरान्त श्री माथुर उत्तर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी बने। उत्तर मध्य रेलवे के महत्वपूर्ण परियोजनायें जैसे आगरा कैंट स्टेशन, टूंडला फ्लाईओवर, चुनार एवं बांदा-मानिकपुर खंड के सिग्नल प्रणाली की बेहतरी में इनके द्वारा अति विशेष योगदान प्रदान किया गया। श्री माथुर को भारतीय रेल के विभिन्न क्षेत्रीय रेलों के साथ-साथ अन्य देशों में भी कार्य करने का व्यापक अनुभव है।
माथुर वर्तमान में आरडीएसओ में ईडी/ सिंगनल के पद पर फरवरी 2016 से कार्यरत हैं। इस दौरान उन्होंने विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया गया। इसके अतिरिक्त इन्होंने विद्युत इंटरलॉकिंग में बेहतरी के साथ सिग्नल क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं को सुलझाने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। संदीप माथुर ने वर्ष 2016 में नैनो रेल , जर्मनी में भारतीय रेल के प्रतिनिधि के रूप में भागीदारी की, उनके कई पेपर्स राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सेमिनारों में प्रस्तुत किये गये हैं। भारतीय रेलवे में तकनीकी योगदान के अलावा श्री माथुर एक अच्छे खिलाड़ी के साथ – साथ सामाजिक गतिविधियों में भी इनका योगदान अनुकरणीय है।
————-

रेलवे :
मंडल के उत्कृष्ट कार्य के लिए आठ रेलकर्मचारी हुए सम्मानित
झाँसी। कार्यवाहक मंडल रेल प्रबंधक रंजन यादव द्वारा संरक्षा संबंधित उत्कृष्ट कार्य के लिए आठ रेल कर्मियों को सम्मानित कियाहै।
उत्तर मध्य रेलवे झाँसी मंडल के जनसंपर्क अधिकारी मनोज कुमार ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए बताया है कि राजेश अहिरवार लोको पायलट ने 20 मार्च को गाडी संख्या 12448 बांदा-मानिकपुर खंड में कार्य के दौरान भरतपुर-शिवरामपुर स्टेशन के मध्य किमी. संख्या 1378/7 से 1378/8 पर एक गैंगमैन द्वारा खतरा हाथ सिगनल दिखाने एवं पटाखे फूटने की आवाज आने पर गाडी को इमरजेंसी ब्रेक लगाकर गाडी को नियन्त्रित कर तुरन्त खडा किया। पूछताछ करने पर ज्ञात हुआ कि रेलपथ में फ्रैक्चर हुआ है। स्टेशन मास्टर, पावर कन्ट्रोल झांसी को सूचना दी। रेलपथ निरीक्षक द्वारा उक्त रेल फ्रैक्चर को क्लैम्प करके 30 किमी./घंटा का कॉशन जारी किया। इसके अलावा वसीम अकरम सहायक, लोको पायलट पैसेंजर को नकद पुरस्कार प्रदान किया।
उधर, राम नारायण निशाद, लोको पायलट ने 16 मार्च को गाडी संख्या बॉक्सएन बांदा-सतना खंड में कार्य के दौरान खुरहण्ड स्टेशन में खडे रहने पर समय 23:41 बजे अचानक देखा कि ओएचई के तार टूटकर गिर गये हैं एवं किमी. संख्या 1338/02 से 1338/07 तक मेन लाइन व लूप लाइन संख्या-1 (मानिकपुर एण्ड) अवरूद्ध हो गयी कर्मचारी द्वार तुरंत समय 23:52 बजे उक्त घटना की जानकारी ऑन डयूटी स्टेशन मास्टर खुरहण्ड, पावर कन्ट्रोल झांसी को दी। इसी तरह आलोक कुमार सहायक लोको पायलट गुडस को नकद पुरस्कार प्रदान किया। वहीं, टी.के.मिश्रा, लोको पायलट, 09 मार्च को गाडी क्रमांक 15016, लोको क्रमांक 30450 झांसी-लखनऊ खंड में कार्य करते समय अमौसी-मानक नगर खंड पर पब्लिक द्वारा गाडी रोकने का इशारा करते देखकर तुरन्त गाडी को नियंत्रित कर खडा किया। रेल ट्रैक का गाडी के आगे निरीक्षण करने पर पाया कि किमी. संख्या 5/6 पर 5 से 6 इंच ग्लूड ज्वांइट पर रेल टूटी हुई थी।इसकी सूचना टीएलसी/लखनऊ, डिप्टी एसएस मानक नगर को दी। तत्पश्चात इंजीनियर विभाग द्वारा टैंक पर पट्टी बांधकर गाडी को 10 किमी./घंटा की गति से सर्तकतापूर्वक कार्य किया। चंदन कुमार, सहायक लोको पायलट, मेल को नकद पुरस्कार प्रदान किया। उधर,नितेश कुमार वर्मा, ट्रैक मेन्टेनर-।।।, कालपी 15 अप्रैल को अपने सेक्शन में लोकेशन 1275/20 पर देखा कि एक बन्दर को विद्युत घात लगने के कारण एस.एस. रोप के 6-7 छडे टूट गयी थी ए व बी टी इन्सुलेटर बुरी तरह फ्लैष हो गया था। कर्मचारी द्वारा तुरंत सूचना देने पर फैल्युर को बचा पाना संभव हो पाया है। इसी तरह पन्ना लाल, कीमैन – 49 भीमसेन 16 मार्च को किमी. संख्या 1425/8-9 एलएच साइड में कर्मचारी ने फ्लैष बट वेल्डिंग में रेल फैक्चर देखा और सुरक्षित किया, अपने उच्च अधिकारियों को सूचना दी एवं गाडियों का आवागमन समय कराया। सभी कर्मचारियों द्वारा सतर्कता एवं तत्परता पूर्वक कार्यवाही किए जाने पर मंडल रेल प्रबंधक ने प्रत्येक कर्मचारी को रु. 500/- का नकद इनाम एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया । प्रति माह एक पुरस्कार रु. 3000/- का रेल संरक्षा प्रहरी के नाम से देने एवं गैर रेल कर्मचारी जो रेल संरक्षा में दुर्घटना बचाने में सहयोग करता है, को भी संरक्षा पुरस्कार दिया जा सकता है । इस प्रकार कोई भी ब्यक्ति रेल संरक्षा पुरस्कार प्राप्त कर सकता है । इस अवसर पर नये मंडल रेल प्रबंधक श्री संदीप माथुर, अपर मंडल रेल प्रबंधक, संजय सिंह नेगी तथा वरि. मंडल संरक्षा अधिकारी, विपिन कुमार सिंह एवं मंडल के अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।
————

स्टेशनों पर चलाया सघन टिकट जांच अभियान

झाँसी। सहायक वाणिज्य प्रबंधक सुश्री सीमा तिवारी सहायक वाणिज्य प्रबंधक के नेतृत्व में दतिया स्टेशन पर सघन टिकट जांच अभियान चलाया गया। इस अभियान में ट्रेनों को रोककर गहनता से जांच करायी गयी तथा बिना टिकट, अनियमित यात्रा, बिना बुक लगेज, गन्दगी फैलाते, धुम्रपान करने वाले यात्रियों सहित कुल 311 प्रकरण दर्ज हुए, जिनसे जुर्माना स्वरुप रूपए रु. 141125/- राजस्व की वसूली की गयी। इसी प्रकार 3 जुलाई को ललितपुर स्टेशन पर नीरज भटनागर मंडल वाणिज्य प्रबंधक के नेतृत्व में सघन टिकट जांच अभियान चलाया गया। इस अभियान में ट्रेनों को रोककर गहनता से जांच करायी गयी तथा बिना टिकट, अनियमित यात्रा, बिना बुक लगेज, गन्दगी फैलाते, धुम्रपान करने वाले यात्रियों सहित कुल 192 प्रकरण दर्ज हुए, जिनसे जुर्माना स्वरुप रूपए रु. 88800/- राजस्व की वसूली की गयी। इस प्रकार के औचक जांच अभियान भविष्य में भी जारी रहेंगे। रेलवे ने यात्रियों से अपील है कि उचित यात्रा टिकट लेकर ही यात्रा करें, स्टेशन व रेल परिसर में गंदगी ना फैलाएं तथा असुविधा से बचें।
——————————-

रेलवे फाँसी पर तो नहीं चढ़ाएगी, मगर जुर्माना भर दूंगा

झाँसी। रेल सुरक्षा बल की टीम ने चेन पुलिंग करने के आरोप में एक युवक को पकड़ लिया। युवक का कहना है कि चेन पुलिंग करना उसका कर्तव्य हैं, रेलवे फाँसी पर नहीं चढ़़ाएगी मगर वह जुर्माना जरुर अदा करुंगा। इस युवक को अदालत में पेश किया। वहां से उसे जेल भेजा जाएगा।
गाड़ी क्रमांक 22456 दिल्ली से चलकर झाँसी की ओर आ रही थी। इस ट्रेन में ट्रेन स्क्वाएड टीम में प्रधान आरक्षक चंद्रपाल सिंह चाहर, आरक्षक बीरबल मीना आदि शामिल थे। जैसे ही ट्रेन कोटरा-डबरा रेलवे सेक्शन के किमी नंबर 1181/19 के मध्य चल रही थी, तभी एक युवक चेन पुलिंग करते टीम ने पकड़ लिया। पकड़े गए युवक ने अपना नाम विशाल कांकर निवासी बड़ा बाजार थाना गोहद जिला भिण्ड मध्य प्रदेश बताया। विशाल का कहना है कि वह ऐसे ही बिना टिकट यात्रा करता है। जैसे ही उसका घर जाने वाले स्टेशन आता तो वहां पर ट्रेन की चेन पुलिंग कर उतर जाता है। विशाल ने धमकी भरे अंदाज में कहा कि क्या करेगी रेलवे फांसी तो चढ़ाएगी नहीं, जितना जुर्माना होगा भर दूँगा। बाद में युवक को आरपीएफ थाना लाया गया। इस संबंध में उपनिरीक्षक रविन्द्र सिंह राजावत ने उक्त आरोपी के खिलाफ धारा 141, 137, 147, 145, 146 रेलवे अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। उक्त आरोपी को अदालत में पेश किया। वहां अदालत ने पांच हजार का अर्थदंड के साथ-साथ उसे जेल भेज दिया।
—————–

बच्चों के नारों से बबीना बाजार हुआ गुलजार

—बेसिक शिक्षा विभाग की स्कूल चलो अभियान की रैली की रही धूम, बीडीओ ने की रैली रवाना
झाँसी। सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत बबीना ब्लाक के परिषदीय विद्यालयों एवं मान्यता प्राप्त स्कूलों के बच्चों की ब्लॉक स्तरीय रैली से बबीना बाजार गुलजार हो गया। मुख्य अतिथि खंड विकास अधिकारी राम पन्त वर्मा ने हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। बच्चों के नारों से बबीना बाजार गूंज उठा। क्षेत्र की विभिन्न गलियों से गुजरते हुए बच्चों ने अपने प्रेरक नारों से लोगों को जागरूक किया।
बेसिक शिक्षा विभाग में एक जुलाई से स्कूल चलो अभियान की रैलियों के आयोजन का सिलसिला चल रहा है। इसी कड़ी में बबीना ब्लाक की ब्लाक स्तरीय रैली शुक्रवार को पूरे जोश के साथ निकाली गई। रैली की सफलता के लिए बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों व शिक्षकों ने पूरी ताकत झोक दी। सुबह से ही परिषदीय विद्यालयों के बच्चे यूनिफॉर्म में अपने-अपने स्कूलों का बैनर थामे रैली स्थल पर एकत्रित होने लगे थे। इन बच्चों के हाथों में शिक्षा से संबंधित प्रेरक नारों की तख्तियां भी थीं। बच्चों को कई नारे मुँह जबानी याद थे। “मम्मी पापा हमें पढ़ाओ, स्कूल में चल कर नाम लिखाओ”, “आधी रोटी खाएंगे, स्कूल जरुर जाएंगे” जैसे प्रेरक नारे रैली में खूब गूंजे। मुख्य अतिथि खंड विकास अधिकारी बबीना राम पंत वर्मा ने हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि शिक्षा सभी बच्चों का अधिकार है और सरकार यही चाहती है कि कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित न रहे। विशिष्ट अतिथि खंड शिक्षा अधिकारी बबीना ब्रह्म नारायण श्रीवास्तव ने कहा कि 6 से 14 आयु वर्ग के बालक-बालिकाओं के शत प्रतिशत नामांकन सुनिश्चित करने के उद्देश्य से जन जागरूकता रैली निकाली जा रही है। इस प्रकार की रैलियों का आयोजन विद्यालय स्तर पर भी किया जा रहा है। रैली में एडीओ बबीना ओम वीर सिंह भी विशेष रूप से भी मौजूद रहे। इस अवसर पर बबीना ब्लाक के सह समन्वयक डॉ अचल सिंह, नितिन चौरसिया,दीपिका वार्ष्णेय, राहुल त्यागी ,नीलम तिवारी के साथ-साथ बेसिक शिक्षक सोसायटी के अध्यक्ष संजीव तिवारी एनपीआरसी बृज बिहारी झा, राजीव वर्मा ,जगदीश तिवारी ,शरीफ उद्दीन, सौरव शर्मा, अनीता सिंह, विनीता उपाध्याय, शाहीन रईस ,बिंदी देवी ,नीतू अहिरवार ,मनीषा तिवारी, सत्य प्रकाश मिश्रा ,मंजू वर्मा ,रीता आहूजा, मंजू झा ,सुदामा प्रसाद ,जफर रिजवी ,रश्मि आनंद ,अंजू साहू ,मीरा श्रीवास्तव, नूरजहां, सहित अनेक प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाध्यापक उपस्थित रहे।
—————-

साहब, मम्मी और पापा को दिलाओ न्याय
आरोपियों से मिला है बुविवि चौकी का दारोगा, मांग रहा है सुविधा शुल्क

झाँसी। साहब, मम्मी घर पर खाना बना रही थी, तभी दबंग आए और मम्मी और पापा की पिटाई की। तोड़फोड़ की। इसके बाद सभी लोग धमकी देकर चले गए। इसकी सूचना बुविवि चौकी को दी तो दारोगा ने आरोपियों का पक्ष लेकर मम्मी और पापा को उल्टे बंद करने की धमकी दी। शिकायती पत्र के माध्यम से न्याय की मांग की।
नवाबाद थाना क्षेत्र के न्यू आरटीओ कार्यालय के पीछे शिवाजी नगर में रहने वाली रानी कुशवाहा अपने दो बच्चों को लेकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची। यहां बच्चों ने बताया कि 4 जुलाई को उसकी मां घर के अंदर खाना पका रही थी, तभी शिवाजी नगर में रहने वाला एक युवक अपने साथियों के साथ घर में घुस आया। आरोप है कि कमरे के अंदर रखे सामान की तोड़फोड़ की। इसकी सूचना बुविवि चौकी प्रभारी को दी तो उन्हें उसके मम्मी व पापा को जमकर फटकार लगाई और कहा कि उल्टे बंद कर देंगे। शिकायती पत्र में कहा है कि दारोगा द्वारा आरोपियों को खुलेआम संरक्षण दे रहा हैं। उनके साथ पार्टी तक मनाता है। शिकायती पत्र के माध्यम से आरोपियों व दारोगाओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
—————

 

फौजदारी – कही डंडे चले तो कहीं पर चली लाठियां

झाँसी। आपसी विवाद के चलते कहीं पर डंडे चले तो कहीं पर लाठियां चली है। तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।
कोतवाली थाना क्षेत्र के ओरछा गेट बाहर मोहल्ले में रहने वाली महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि वह घर के बाहर खड़ी थी, तभी तीन लोग आए और बेवजह गाली गलौज की। मना करने पर उसकी पिटाई की। पुलिस ने मुन्ना आदि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं, बबीना थाना क्षेत्र में रहने वाली महिला ने राजू के खिलाफ गाली गलौज व डंडा मारने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। उधर, गुरसरांय थाना क्षेत्र के ग्राम बंका पहाड़ी निवासी अखिलेश कुमार ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि वह खेत पर पानी दे रहा था, तभी तीन लोग आए और लाठी से हमला किया। शोर मचाने पर धमकी देकर चले गए। पुलिस ने तेजराम आदि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। इसके अलावा शाहजहांपुर थाना क्षेत्र के ग्राम सौराही निवासी अरविन्द्र कुमार ने वीर सिंह आदि के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।
—————

कच्च्ची समेंत दो गिरफ्तार

 

 

झाँसी। अलग – अलग थानों की पुलिस ने शराब बेचने के आरोप में दो लोगों को पकड़ लिया। बरुआसागर थाने की पुलिस ने स्टेशन रोड आरा मशीन तिराहा के पास से ग्राम तैंदोल निवासी एक महिला को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से 80 लीटर कच्ची शराब बरामद की गई। वहीं, लहचूरा थाने की पुलिस ने चकारा तिराहा के पास से ग्राम धामपुरा निवासी चंद्रपाल को गिरफ्तार कर लिया। इसके पास से दस लीटर कच्ची शराब बरामद की गई।
—————-

झगड़ते हुए तीन गिरफ्तार

झाँसी। अलग – अलग थानों की पुलिस ने झगड़ा करने के आरोप में तीन लोगों को पकड़ लिया। सीपरी बाजार पुलिस ने कृष्णा कालौनी निवासी धर्मेन्द्र कुमार व गोदू कंपाउंड निवासी विजय बागवान को गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा बरुआसागर थाने की पुलिस ने ग्राम खंडेसर निवासी विजय सिंह को गिरफ्तार कर लिया। तीनों का शांतिभंग करने के आरोप में चालान कर दिया।
———-

शराब पीने को मांगा पैसा, न देने पर कर दी पिटाई

झाँसी। शराब पीने को पैसा न देने पर कुछ ने एक महिला की की पिटाई की। इसके बाद विपक्षी धमकी देकर चले गए। इसकी सूचना पुलिस को दी गई।
गुरसरांय थाना क्षेत्र के ग्राम सुट्टा निवासी आशाराम ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि वह घर के बाहर खड़ा था, तभी दो लोग आए और उससे शराब पीने के लिए पैसों की मांग की। न देने पर घर में घुसकर मां की पिटाई की। पुलिस ने कमलेश कुमार, मानवेन्द्र सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।
————–

घर में घुसकर पीटा, धमकाया

झाँसी। चिरगांव थाना क्षेत्र के ग्राम बाबरी निवासी राजेश पटैरिया ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि गांव में रहने वाले चार लोग उसके घर में घुस आए। विरोध करने पर उसकी पिटाई की। इसके बाद विपक्षी धमकी देकर चले गए। पुलिस ने जयहिन्द, शेरु, राघवेन्द्र व मोहर सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।
———–

खेत पर सर्प ने डसा, मौत

झाँसी। फसल की रखवाली करने गए किसान को सर्प ने डस लिया जिससे उसकी मौत हो गई। इसकी सूचना पुलिस को दी गई।
टहरौली थाना क्षेत्र के ग्राम लोहारगांव घाट निवासी संजय कुमार गुरुवार की शाम खेत पर फसल की रखवाली करने गया था। जैसे ही वह फसल देखने गया तो सर्प ने उसे डस लिया जिससे वह बेहोश हो गया। बेहोशी हालत में उपचार के लिए मेडिकल कालेज लाया। वहां उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया।
————

पत्नी से विवाद होने पर पति ने लगा ली फाँसी

झाँसी। पत्नी से विवाद होने पर पति ने फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इसकी सूचना पुलिस को दी गई।
रक्सा थाना क्षेत्र के ग्राम परवई निवासी अजय कुमार बबीना थाना क्षेत्र के नईबस्ती मोहल्ले में परिवार समेत रहता है। गुरुवार की शाम किसी बात को लेकर पत्नी से विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि वह कमरे में गया और गले में फाँसी का फंदा बांधकर लटक गया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया।

———————
चिरगांव थाने पहुंचे एसएसपी, कमियां मिलने पर दिखे नाराज

झाँसी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ ओ पी सिंह शुक्रवार को चिरगांव थाने पर अचानक पहुंचे। इसके बाद उन्होंने कार्यालय, चिरगांव थाना परिसर, बैरक का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने आगन्तुक रजिस्टर को अप डेट कर रही महिला कांस्टेबल से पूछताछ की। महिला आरक्षी से जानकारी ली कि अगर कोई पीड़ित थाने पर आता है तो उससे किस तरह का व्यवहार किया जाए। साहब, पीड़ित को हर तरह की मदद देने का आश्वासन दिया जाता है। इसके बाद एसएसपी ने चिरगांव थाना प्रभारी व अन्य स्टॉफ से टॉपटेन व भू-माफियाओं के बारे में जानकारी मांगी मगर कोई सही तरह का जवाब नहीं दे सका। इस पर उन्होंने नाराजगी जताई है। वहीं, चिरगांव थाना स्टॉफ की समस्याओं को सुना। एसएसपी ने स्टॉफ की समस्याओं का जल्द से जल्द निस्तारण करने का आश्वासन दिया है।
—————-

जिला कारागार का आकस्मिक निरीक्षण
झाँसी। जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ ओ पी सिंह ने शुक्रवार की सुबह अचानक जिला कारागार का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण से वहां पर हड़कंप मच गया। इसके बाद उन्होंने जेल अस्पताल, बैरक आदि की सघन जांच की। वहीं, बैरक में बंद कैदियों से पूछताछ की। इस मौके पर वरिष्ठ जेल अधीक्षक आर के शुक्ला, एसपी सिटी श्री प्रकाश द्विवेदी, सीओ सिटी जितेन्द्र सिंह परिहार आदि लोग शामिल रहे है।